समाज की समस्या,

c समस्या अब क्लॉक की आती है, क्लॉक स्तर पर कोई बैठक नहीं होता, और प्रदेश स्तर पर भी कोई बैठक नहीं होता समाज के द्वारा, जो भी बैठक होता है, वह संगठन के द्वारा, लेकिन एक होता तो बात अलग है, हजारो है, और संगठन समाज का नियम नहीं …

यह लेख पूरा पढ़े

डॉ आंबेडकर जी की 128वीं जयंती समारोह रायगढ़ की समीक्षा बैठक

साथियों आप सभी के सहयोग से बाबा साहब की जयंती रायगढ़ में बड़े ही धूम धाम से संपन्न हुआ।भारतीय संविधान की झाँकी की शहर ही नही प्रदेश भर से सराहना मिली।। साथियों आप सभी का सहयोग और मार्गदर्शन सदैव बनी रहे आगे हमें हमेशा एकजुट हो कर सामाजिक कार्यों का …

यह लेख पूरा पढ़े

मन को प्रभावित करने वाले कारक

बचपन में प्रोग्रामिंग:- दुनिया में वही काम सफलता पूर्वक पूर्ण होता है,जो काम शुरू होने से पहले दिमाग में पूर्ण हो चुका देखा जाता है।। विश्वास की ताकत:– दुनिया में वही काम सफलता पूर्वक पूरा होता है जिस काम को शुरू होने से पहले ही दिमाग में देखा जाता है। …

यह लेख पूरा पढ़े

जागरूक सतनामी समाज Jagruk Satnami Samaj

जागरूक सतनामी समाज की पूरी जानकारी | जिला – जांजगीर-चाम्पा से, नाम – योगेन्द्र कुमार सतनामीगाँव -चरौदी,तहसील – मालखरौदा,जिला – जांजगीर-चाम्पा,राज्य – छत्तीसगढ़,Mo. 9131880737कार्य – समाज की उन्नति, एकता, संस्कृति, के लिए कार्य, जमीनी स्तर और लेखनी के माध्यम से | जिला – दुर्ग से भागीरथी कुर्रे गांव खोपली उतई …

यह लेख पूरा पढ़े

#मानव और जानवर में समानताए, क्या मानव भी जानवर की तरह ही है ?

कैसा रहेगा अगर मानव को जानवर कहें और जानवर को मानव फर्क बस इतना ही तो है, मानव बोलना कुछ जायदा सीख गया है, और अपने में निरंतरता बना लिया है, और जानवर अपने क्षमता अनुसार जी रहा है | एक समय था, जब मानव और जानवर में कोई असमानताए …

यह लेख पूरा पढ़े

मूलनिवासी समाज की समस्या का कारण

आज का ओ दौर है, जब विदेशी अपनी गुलामी नीति को जन-जन तक पहुचाने के लिए लगे है | इसी के दौर में सबसे बड़ी साजिस धर्म है | जब संविधान बना तो, तो उससे पहले इन विदेशियों ने पुरे भारत वर्ष की सत्ता को वर्ण व्यवस्था के माध्यम से …

यह लेख पूरा पढ़े

#मेरा बंधन

आप लोग भी उतने ही समझदार हैं, जितना मैं, आप लोग भी वैसे है, जैसे मैं, आप लोग भी वैसे कर्म करते है, जैसे मैं, फर्क बस इतना है, मैं समय के साथ कुछ आगे बढ़ गया हूँ | और मैं देख रहा हूँ, आप भटक-भटक कर थक-थक कर चल …

यह लेख पूरा पढ़े

#बाबा साहेब अम्बेडकर

जय भीम, जय संविधान, बाबा साहब अम्बेडकर के बारे में, जितना गुणगान करूँ ओ कम है | ब्राम्हणवाद तोड़ने वाले | मनु स्मृति का नियम ख़त्म करने वाले | पानी पीने का अधिकार दिलाने वाले | महिलाओं को मान-सम्मान अधिकार दिलाने वाले | देश का संविधान बनाने वाले, कानून लाने …

यह लेख पूरा पढ़े